in

उसे उस अजनबी से प्यार हो गया था, पर वो अजनबी किताब से नज़र ही नहीं उठाता था. अलग है ये Love Story

इश्क़ भी न जाने किस-किस तरह से हमारी ज़िन्दगी में आता है. आजकल के हालात कुछ यूं हो चले हैं कि पहली नज़र के प्यार पर भरोसा करना ज़रा मुश्किल हो गया है. पर कुछ ऐसी कहानियां हमसे रूबरू होती हैं, जिनसे ये साबित हो जाता है कि दुनिया में मोहब्बत अब भी बाकी है और वक़्त-बेवक़्त लोगों की ज़िन्दगी में दस्तक भी देती हैं.

Zoe Folbigg की कहानी भी कुछ ऐसी ही है. Zoe ट्रेन से सफ़र करती थी और उनके साथ इत्तफ़ाक से हर रोज़ एक अजनबी भी सफ़र करता था.

ये अजनबी दूसरे सहयात्रियों से काफ़ी अलग था. हमेशा एक किताब में आंखें गड़ाए बैठा रहता. एक पल के लिए भी सिर नहीं उठाता.

Source: Epoch Times

Zoe उस अजनबी को पसंद करने लगी. Jeans और Converse Shoes पहनने वाली Zoe. उस अजनबी का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए अच्छे से Dress-Up करने लगी. पर वो अजनबी अपने किताब में ही डूबा रहता.

हर रोज़ एक ही Compartment में सफ़र करते, पर कभी कोई बात नहीं. Zoe बात करना चाहती, लेकिन अजनबी कभी भी किताब से नज़र ही नहीं हटाता था. आलम ये था कि Zoe के इस Train वाले Crush के बारे में उसके दोस्तों को भी पता चल गया. सबने उस अजनबी का नाम ‘Train Man’ रख दिया.

ये पहली नज़र का प्यार था. ये सुनने में अजीब है पर मैंने वैसा ही महसूस किया, Zoe ने बताया.

Source: Epoch Times

Zoe के Co-workers उससे Train Man के बारे में पूछते. ‘आज उसने क्या पहना था?’, ‘क्या उसने तुम्हारी तरफ़ देखा’. इस आखरी सवाल का जवाब हमेशा ना होता.

Zoe, Train Man से बात करना चाहती थी और एक Co-worker ने उन्हें बातचीत शुरू करने का उपाय भी बता दिया. Zoe ने उस अजनबी के सामने अपनी Train Ticket गिरा दी, इश उम्मीद में कि वो इसी बहाने उससे बात कर लेगी. 1 घंटे तक अजनबी ने ध्यान ही नहीं दिया. 1 घंटे बाद Train Man ने टिकट उठाकर Zoe को दिया, पर वो ‘Thankyou’ के अलावा कुछ नहीं कह पाई.

Source: Daily Mail

Zoe ने बताया,

‘ऐसा नहीं कि मैंने उस साल किसी के साथ Date पर नहीं गई. पर मुझे किसी से वो Connection महसूस ही नहीं होता जैसा उस अजनबी से होने लगा था.’

बहुत हिम्मत करके अपने Birthday पर Zoe ने उस अजनबी को एक Love Letter देने की सोची. Zoe ने चिट्ठी उस अजनबी को दी और उसके Reaction को देखे बिना ही वहां से चली गई.

चिट्ठी में Zoe ने अपने बारे में बताया और उस Train Man से Drinks के लिए चलने को कहा और साथ ही अपना E-mail भी दे दिया. ये भी लिख दिया कि अगर वो Intrested नहीं है तो Zoe उसे दोबारा परेशान नहीं करेगी.

Source: Daily Mail

एक दिन उसके पास एक Mail आया जिसका Subject Line था ‘The Guy On The Train’. Zoe की धड़कनें रुक गई. उसने Mark(Train Man) का Mail खोला,

‘शुक्रिया, जो आपने किया उसके लिए. मेरे पास ऐसा कुछ करने की हिम्मत कभी नहीं कर पाता. पर मेरी एक Girlfriend है और अगर मैं आपके साथ बाहर गया तो उसे अच्छा नहीं लगेगा. Happy Birthday. उम्मीद करता हूं आपका दिन अच्छा बीतेगा.’

Zoe को लगा कि ये इस कहानी का अंत था. इस घटना के बाद Zoe और Mark फिर से अजनबी गये. ट्रेन में सफ़र का सिलसिला भी जारी रहा.

Source: India.com

8 महीनों बाद, Zoe को Mark का दूसरा Mail मिला. Mark 8 महीनों से Single था और इस दौरान वो Zoe के बारे में ही सोचता रहा. Mark ने Zoe को Date पर चलने के लिए पूछा था.

Source: The Sun

पहली मुलाक़ात में ही न कोई संकोच था और न ही कोई दुविधा. दोनों के पास ही बातें करने के लिए बहुत से Topics थे. पहली Date के बाद दोनों ही दोबारा मिलने के लिए बेचैन हो गए. पहली Date के 3 महीने बाद ही दोनों साथ रहने लगे.

3 साल बाद दोनों Vacation पर ऑस्ट्रेलिया जा रहे थे. ट्रेन में सफ़र के दौरान ही Mark ने Zoe को शादी के लिए Propose किया.

Source: The Sun

आज दोनों के दो बच्चे हैं और Zoe अपने इस प्यारी सी Love Story पर किताब लिख चुकी हैं.

रोज़ भाग-भाग कर मेट्रो, बस, लोकल पकड़ते हो. रुककर 1 पल सोचते भी नहीं. देखते भी नहीं कि आस-पास कौन है. कौन है जो तुम्हारे साथ रोज़ सफ़र करता है और तुम जानते भी नहीं कि वो तुम्हारा हमसफ़र बन चुका है. ध्यान दीजियेगा, क्या पता कब कहां कोई अजनबी आपका हमसफ़र बन जाए?

Source: Epoch Times

Facebook Comments

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

अगर आपको लगता है कि सामने वाला झूठ बोल रहा है, तो इन बातों पर गौर करके आप पकड़ सकते हैं उसका झूठ

दुनिया के वो अजीबोगरीब सिंड्रोम जब इंसान का अपने दिलो-दिमाग पर कोई काबू नहीं रह पाता है